सांख्यिकी

 

पदाधिकारी का नाम पदनाम संपर्क ईमेल
श्री चन्द्र भूषण तिवारी जिला सांख्यिकी पदाधिकारी 9431166341/0326-2311254 dhn.statistics@gmail.com

जिला सांख्यिकी कार्यालय, अर्थ एवं सांख्यिकी निदेशालय, योजना-सह-वित्त विभाग (योजना प्रभाग), झारखण्ड, राँची के अन्तर्गत आता है जिसमें कार्यालय द्वारा निम्नाकित कार्य होते हैः-

कृषि सांख्यिकी

  1. कृषि सांख्यिकी के अन्तर्गत चारो मौसम यथा – भदई, अगहनी, रब्बी, गर्मा का अंचलो द्वारा प्राप्त प्रतिवेदन को संकलित कर ससमय द्रुत जिन्सवार एवं सामान्य जिन्सवार अर्थ एवं सांख्यिकी निदेशालय, झारखण्ड, राँची को भेजा जाता है। जहाँ से आँकड़े सरकार को उपलब्ध कराये जाते हैं।
  2. फसल कटनी प्रयोग – चारो मौसमों के अन्तर्गत राज्य सरकार के निदेशानुसार जिला कार्यालय द्वारा कटनी का आयोजन कर फसल कटनी प्रयोग एवं प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का सम्पादन प्रखण्डों/ अंचलों के पर्यवेक्षक एवं अन्य कर्मी के द्वारा फसल कटनी का प्रयोग Online CCE Agri App द्वारा सम्पादन किया जाता है। जिसके आँकडे़ राज्य सरकार को Online प्रेषित किया जाता है। तथा किसानों द्वारा बीमा करायें गए इसी आँकडे़ पर किसानों को क्षतिपूर्ति राशि का भुगतान किया जाता हैं।
  3. वर्षापात- प्रतिदिन प्रत्येक प्रखण्डों से जहाँ वर्षा यंत्र अधिष्ठापित है, वर्षापात प्रतिवेदन प्राप्त कर सभी संबंधित पदाधिकारियों को भेजा जाता हैं।
  4. भूमि उपयोग विवरणी एवं शुद्ध सिंचित विवरणी अंचलों से प्राप्त प्रतिवेदन के आधार पर जिला कार्यालय द्वारा संकलित कर वार्षिक प्रतिवेदन निदेशालय प्रेषित किये जाते हैं।
  5. प्रक्षेत्र मूल्य प्रतिवेदन – सभी प्रखण्ड़ों के बाजारों द्वारा प्रखण्ड़ों से प्रेषित प्रतिवेदन के आधार पर समेकित प्रतिवेदन प्रत्येक मौंसम का निदेशालय प्रेषित किये जाते हैं।

जीवनांक (जन्म-मृत्यु)

  1. सभी स्वास्थ्य केन्द्र, उप स्वास्थ्य केन्द्र, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र, पी0 एम0 सी0 एच0 , सभी पंचायत, नगर निगम के सभी अंचल तथा नगर पंचायत चिरकुण्डा निबंधन इकाई है, जिसके अन्तर्गत जन्म-मृत्यु का निबंधन कार्य होता है। सभी निबंधन इकाईयों को प्रपत्र आपूर्ति जिला कार्यालय द्वारा किया जाता है तथा मासिक प्रतिवेदन एवं सांख्यिकीय भाग प्राप्त किया जाता हैं। जिसे निदेशालय प्रेषित किया जाता है।
  2. शहरी क्षेत्र का जन्म-मृत्यु का जाँच किया जाता है एवं एक माह से उपर तथा एक वर्ष तक का निबंधन का आदेश की स्वीकृति जिला कार्यालय द्वारा किया जाता है।

प्रत्येक 10 वर्षो पर जनगणना कार्य एवं प्रत्येक पांच वर्षो पर आर्थिक गणना का कार्य कार्यालय द्वारा किया जाता है।

राष्ट्रीय प्रतिदर्श सर्वेक्षण राज्य सरकार निदेशानुसार आवंटित ग्रामो का प्रतिदर्श सर्वे किया जाता है तथा सर्वेक्षित अनुसूचियां निदेशालय प्रेषित किये जाते है। जिसके आधार पर Living of Standard का आंकलन किया जाता है।

विविध सांख्यिकी – नमक मूल्य प्रतिवेदन, कारा सांख्यिकी प्रतिवेदन, वधशाला प्रतिवेदन, कृषि श्रमिकों की दैनिक मजदूरी प्रतिवेदन, क्रय -विक्रय मूल्य प्रतिवेदन, कृषि बाजार समिति का सप्ताहिक प्रतिवेदन सभी संबंधित कार्यालय से प्राप्त कर प्रतिवेदन निदेशालय प्रेषित किये जाते हैं।

उपभोक्ता मूल्य सूचकांक – झरिया केन्द्र के अन्तर्गत आधार वर्ष 2001=100(पुरानी सिरीज) के अन्तर्गत पांच बाजारों तथा आधार वर्ष 2015=100 (नई सिरीज) के अन्तर्गत चार बाजारों का मूल्य संग्रह कर प्रतिवेदन शिमला, चंडीगढ़, कानपुर प्रेषित किये जाते हैं। जिसके आधार पर प्रत्येक माह शिमला में Price Index निकाला जाता है तथा हर छः माह पर मँहगाई भत्ता निर्धारित किया जाता है।